0 0
Read Time:2 Minute, 57 Second

Share this:

तारक मेहता के जेठालाल की संघर्ष व् सफलता की कहानी, जाने

मुंबई । सन 2008 में शुरू होने वाला टीवी सीरियल तारक मेहता का उल्टा चश्मा आज घर-घर में लोकप्रिय है. हो भी क्यों न? क्योंकि इस धारावाहिक के सभी कलाकारों ने अपनी अपने किरदारों को उम्दा तरीके से निभाया है. हालांकि इसके सबसे लोकप्रिय एवं पूरे दर्शक जगत के चहेते यानी इस धारावाहिक के प्रमुख किरदार जेठालाल हैं जिनका वास्तविक नाम दिलीप जोशी है

चूंकि आज दिलीप जोशी किसी परिचय के मोहताज नहीं है ,भारत के घर-घर में सभी इनसे बखूबी परिचित हैं. यह मुकाम इन्होंने अपनी मेहनत व लगन से हासिल किया है, लेकिन उनके लिए फर्श से अर्श तक का यह सफर आसान नहीं रहा है .आज वह जिस मुकाम तक है वहां तक पहुंचने के लिए उन्हें एक लंबे संघर्ष का सामना करना पड़ा है.

शायद इस संघर्ष को कम ही लोग जानते हैं परन्तु एक समय ऐसा भी था जब 50रुपये कमाने के लिए उन्हें बैकस्टेज आर्टिस्ट के रूप में भी काम किया था, परन्तु थिएटर के प्रति उनकी लगन और मेहनत का नतीजा है की आज वे टीवी सितारों की दुनिया में एक प्रसिद्ध कलाकार के रूप में उभरे हैं. दिलीप जोशी ने कई सुपरहिट फिल्मों में भी मशहूर कलाकारों के साथ किरदार निभाये हैं. फिर भी दिल है हिंदुस्तानी, मैंने प्यार किया, खिलाड़ी 420 और व्हाट्स योर राशी जैसी प्रमुख फिल्मों में रहे हैं

जिसमें उन्होंने अपने रोल को प्रभावशाली रूप से निभाया है, परंतु उन्हें अपनी प्रमुख पहचान तारक मेहता के उल्टा चश्मा धारावाहिक में जेठालाल के रूप में ही मिली जिसमें वह एक गुजराती परिवार से सम्बन्ध रखते हैं. इस धारावाहिक में भारत की एकता में अनेकता के विषय को प्रस्तुत किया गया है. आज जेठालाल एक मशहूर कलाकार के रूप में अपना नाम बना चुके हैं और उनके पास वह सभी सुख सुविधाएं हैं जो एक कलाकार का सपना होता है .बड़ा घर ,गाड़ी ,इज़्ज़त,शोहरत इत्यादि. आज भी वो इसी लग्न व ईमानदारी के साथ अपने काम में लगकर लोगों को एंटरटेन कर रहे हैं.

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Total Views: 535 ,

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *